Department of Education LN College Bhagwanpur

Department of Education LN College Bhagwanpur

Comments

B.Ed (2016-18) internship group

The best way to escape with problem is to solve it

Timeline photos 08/11/2018
Photos from Department of Education LN College Bhagwanpur's post 08/11/2018

Celebrating Gandhi jayanti

31/05/2018

Poster presentation by the students of B.Ed.department
on the celebration of world no to***co day

Timeline photos 19/05/2018

Farewell party organized by B.Ed. 2017-19 after the completion of one month observation program

Timeline photos 12/04/2018

Students of B.Ed.2016-18 after completion of internship work

Photos from Department of Education LN College Bhagwanpur's post 11/04/2018

Students of B. Ed. 2016-18. After successful completion of internship work.

Photos from Department of Education LN College Bhagwanpur's post 09/03/2018

Internal seminar was organized in department of education LN College on the occasion of International Women's Day

01/03/2018

लक्ष्मी नारायण महाविद्यालय के शिक्षा संकाय की ओर से इस महाविद्यालय परिवार के सभी सदस्यों एवं छात्र -छात्राओं को होली की बहुत बहुत बधाई।

Photos from Department of Education LN College Bhagwanpur's post 22/02/2018

Greeting cards made B Ed.(2017-19) students under the guidance of Smriti Madam

01/01/2018

लक्ष्मी नारायण महाविद्यालय के शिक्षा संकाय की ओर से इस महाविद्यालय परिवार के सभी सदस्यों एवं सभी छात्र एवं छात्राओं को नव वर्ष की बहुत बहुत बधाई।

29/12/2017

राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा-2005
विषय प्रवेश
1. यह विद्यालयी शिक्षा का अब तक का नवीनतम राष्ट्रीय दस्तावेज है ।

2. इसे अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के के शिक्षाविदों,वैज्ञानिकों,विषय विशेषज्ञों व अध्यापकों ने मिलकर तैयार किया है ।

3. मानव विकास संसाधन मंत्रालय की पहल पर प्रो0 यशपाल की अध्यक्षता में देश के चुने हुए विद्वानों ने शिक्षा को नई राष्ट्रीय चुनौतियों के रूप में देखा ।

मार्गदर्शी सिद्धान्त
,,
1. ज्ञान को स्कूल के बाहरी जीवन से जोड़ा जाए।
2. पढाई को रटन्त प्रणाली से मुक्त किया जाए।
3. पाठ्यचर्या पाठ्यपुस्तक केन्द्रित न रह जाए।
4. कक्षाकक्ष को गतिविधियों से जोड़ा जाए।
5. राष्ट्रीय मूल्यों के प्रति आस्थावान विद्यार्थी तैयार हो।
प्रमुख सुझाव

1. शिक्षण सूत्रों जैसे-ज्ञात से अज्ञात की ओर, मूर्त से अमूर्त की ओर आदि का अधिकतम प्रयोग हो।
2. सूचना को ज्ञान मानने से बचा जाए।

3. विशाल पाठ्यक्रम व मोटी किताबें शिक्षा प्रणाली की असफलता का प्रतीक है।

4. मूल्यों को उपदेश देकर नहीं वातावरण देकर स्थापित किया जाए।

5. अच्छे विद्यार्थी की धारणा में बदलाव आवश्यक है अर्थात् अच्छा विद्यार्थी वह है जो तर्क पूर्ण बहस के द्वारा अपने मौलिक विचार शिक्षक के सामने प्रस्तुत करता है।

6. अभिभावकों को सख्त सन्देश दिया जाए कि बच्चों को छोटी उम्र में निपुण बनाने की आकांक्षा रखना गलत है।

7. बच्चों को स्कूल से बाहरी जीवन में तनावमुक्त वातावरण प्रदान करना।

8. “कक्षा में शान्ति” का नियम बार-बार ठीक नहीं अर्थात् जीवन्त कक्षागत वातावरण को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

9. सहशैक्षिक गतिविधियों में बच्चों के अभिभावकों को भी जोड़ा जाए।

10. समुदाय को मानवीय संसाधन के रूप में प्रयुक्त होने का अवसर दें।

11. खेल आनन्द व सामूहिकता की भावना के लिए है, रिकार्ड बनाने व तोड़ने की भावना को प्रश्रय न दे।

12. बच्चों की अभिव्यक्ति में मातृ भाषा महत्वपूर्ण स्थान रखती है। शिक्षक अधिगम परिस्थितियों में इसका उपयोग करें।

13. पुस्तकालय में बच्चों को स्वयं पुस्तक चुनने का अवसर दें।

14. वे पाठ्यपुस्तकें महत्वपूर्ण होती है जो अन्तःक्रिया का मौका दें।

15. कल्पना व मौलिक लेखन के अधिकाधिक अवसर प्रदान करावें।

16. सजा व पुरस्कार की भावना को सीमित रूप में प्रयोग करना चाहिए।

17. बच्चों के अनुभव और स्वर को प्राथमिकता देते हुए बाल केन्द्रित शिक्षा प्रदान की जाए।

18. सांस्कृतिक कार्यक्रमों में मनोरंजन के स्थान पर सौन्दर्यबोध को प्रश्रय दे।

19. शिक्षक प्रशिक्षण व विद्यार्थियों के मूल्यांकन को सतत प्रक्रिया के रूप में अपनाया जाए।

20. शिक्षकों को अकादमिक संसाधन व नवाचार आदि समय पर पहुँचाएँ जाएँ।

15/12/2017

Internship regarding B.Ed. Program of session 2016-18 is going on from 13 December 2017.

Want your school to be the top-listed School/college?

Website