Astroadvise - Horoscope, Astrology,Financial Astrology and Predictions

Astroadvise is giving Personal Guidence for Horoscope Analysis and Horoscope Predictions.It also gives Market Predictions.It is very much difficult to get clear direction of Stock Market ,Commodity Market and Forex.Our experience in Markets makes it easy

Astroadvise - on Market Timing , Horoscope Reading,Gem Stone Recommendations,Match Making,Financial Astrology,Predictions...

Operating as usual

Timeline Photos 21/06/2021

Happy Yoga Day 21st June 2021

Happy Yoga Day 21st June 2021

Photos from Astroadvise -  Horoscope, Astrology,Financial Astrology and Predictions's post 02/06/2021

सर्वेषां मंगलम भवतु !

Timeline Photos 01/06/2021

Timeline Photos

[05/31/21]   *Moon in Makar rashi in shravan nakshtra*
Gold Silver trading as predicted .. those who bought at support can book profit .. for coming session it will be range bound .. no new high will made and no new low will be made with reference to previous two trading session.

Photos from Astroadvise -  Horoscope, Astrology,Financial Astrology and Predictions's post 11/05/2021

Readings through Prashna Kundali , a sure way to lookinto future and be guided.
Ask for prior appointment . Jai Shree Krishna

[08/29/20]   Ipl 2020
September 2020
Who will win the cup ?

[03/25/20]   As per my astro prediction markets will be good till 31st march and down from 31st march mid day ...
I give my view pls do all your trade at your own risk i am not responsible for your losses

[03/20/20]   Moon in Capricorn with Saturn and Mercury in Aquarius .... Market will be in upward mode today ...

Astro prediction is based on current planets in sky traders in markets are advised to do follow these predictions at their own risk. I take no responsibility if losses are incured.

[03/14/20]   Free Horoscope Reading

.....
*Condition Apply*

27/10/2019

Happy Diwali !!!
Wish You all a very Happy and prosperous Diwali!

[07/07/19]   Jai shree krishna !!!💐💐💐

[06/09/19]   Aus will bat first india will win ... #sportsprediction #sportsastrology

[06/09/19]   Sports match prediction icc world cup available now full series

[05/07/19]   अक्षय तृतीया जो इस वर्ष 7 May को है उसका महत्व क्यों है जानिए कुछ महत्वपुर्ण जानकारी
-🙏 आज ही के दिन माँ गंगा का अवतरण धरती पर हुआ था ।
🙏-महर्षी परशुराम का जन्म आज ही के दिन हुआ था ।

🙏-माँ अन्नपूर्णा का जन्म भी आज ही के दिन हुआ था

🙏-द्रोपदी को चीरहरण से कृष्ण ने आज ही के दिन बचाया था ।

🙏- कृष्ण और सुदामा का मिलन आज ही के दिन हुआ था ।
🙏- कुबेर को आज ही के दिन खजाना मिला था ।

🙏-सतयुग और त्रेता युग का प्रारम्भ आज ही के दिन हुआ था ।

🙏-ब्रह्मा जी के पुत्र अक्षय कुमार का अवतरण भी आज ही के दिन हुआ था ।

🙏- प्रसिद्ध तीर्थ स्थल श्री बद्री नारायण जी का कपाट आज ही के दिन खोला जाता है ।
🙏- बृंदावन के बाँके बिहारी मंदिर में साल में केवल आज ही के दिन श्री विग्रह चरण के दर्शन होते है अन्यथा साल भर वो बस्त्र से ढके रहते है ।

🙏- इसी दिन महाभारत का युद्ध समाप्त हुआ था ।

🙏- अक्षय तृतीया अपने आप में स्वयं सिद्ध मुहूर्त है कोई भी शुभ कार्य का प्रारम्भ किया जा सकता है

[04/03/19]   इस बार के नवसंवत्सर में ग्रहों का मंत्रिमंडल कैसा है? इसका फल क्या है?

- यह विक्रमी संवत 2076 है. इसका नाम है- "परिधारी"

- इस संवत का राजा शनि और मंत्री सूर्य होगा.

- राजा शनि होने से कम वर्षा, विवाद, असंतोष, अपराध और अनाचार से समस्या जैसी स्थिति बार-बार बनेगी.

- मंत्री सूर्य के होने से राजकीय कार्यों से लोगों को समस्या होगी, देश का माहौल तनावपूर्ण होगा, न्यायपालिका की ताक़त बढ़ेगी.

- धान्य मंत्री मंगल और चंद्र होंगे, अतः अनाज और पैदावार की स्थिति मिली जुली रहेगी, कृषक वर्ग को समस्या होगी.

- वित्त मंत्री मंगल हैं, अतः देश की आर्थिक स्थितियां विषम होंगी, व्यापारिक जगत में असंतोष रहेगा.

[03/23/19]   Matches
And
Catches

Sports prediction now available
For all ..

21/03/2019

May you celebrate a wonderful Holi with your friends and family. I not only wish to paint your face but also your life with the vibrant colors of love, happiness and joy Holi! ...

Happy Holi 2019: Spread the day with your friends and family

16/03/2019

दशरथ कृत शनि स्तोत्र

नम: कृष्णाय नीलाय शितिकण्ठनिभाय च।
नम: कालाग्निरूपाय कृतान्ताय च वै नम: ।।१।।
नमो निर्मांस देहाय दीर्घश्मश्रुजटाय च ।
नमो विशालनेत्राय शुष्कोदर भयाकृते।।२।।
नम: पुष्कलगात्राय स्थूलरोम्णेऽथ वै नम:।
नमो दीर्घायशुष्काय कालदष्ट्र नमोऽस्तुते।।३।।
नमस्ते कोटराक्षाय दुर्निरीक्ष्याय वै नम: ।
नमो घोराय रौद्राय भीषणाय कपालिने।।४।।
नमस्ते सर्वभक्षाय वलीमुखायनमोऽस्तुते।
सूर्यपुत्र नमस्तेऽस्तु भास्करे भयदाय च ।।५।।
अधोदृष्टे: नमस्तेऽस्तु संवर्तक नमोऽस्तुते ।
नमो मन्दगते तुभ्यं निरि�ाणाय नमोऽस्तुते ।।६।।
तपसा दग्धदेहाय नित्यं योगरताय च ।
नमो नित्यं क्षुधार्ताय अतृप्ताय च वै नम: ।।७।।
ज्ञानचक्षुर्नमस्तेऽस्तु कश्यपात्मज सूनवे ।
तुष्टो ददासि वै राज्यं रुष्टो हरसि तत्क्षणात् ।।८।।
देवासुरमनुष्याश्च सिद्घविद्याधरोरगा: ।
त्वया विलोकिता: सर्वे नाशंयान्ति समूलत:।।९।।
प्रसाद कुरु मे देव वाराहोऽहमुपागत ।
एवं स्तुतस्तद सौरिग्र्रहराजो महाबल: ।।१०।।

10/02/2019

Goddess Saraswati is worshipped to invoke the blessings of the deity, who is the Goddess of culture, music art and education. The significance of Saraswati Puja is that it is a spring festival and it marks the beginning of spring. The yellow colour forms an integral part of the festival. Yellow coloured flowers are offered to the deity, such as Marigold. The food prepared are also yellow in colour, such as kesariya bhaat or sweet saffron rice, kesariya ladoo or halwa or saffron pudding, khichdi or a mixture of yellow pulses with rice and so on. Young girls drape themselves in yellow coloured sarees or basanti coloured saree. Even the cloth which covers the stool on which the deity is placed is yellow in colour. Yellow forms the theme colour of this festival because mustard flowers during this season, spring are in full bloom everywhere and this festival represents the Spring season.

Not only is this festival celebrated with a lot of zeal and fervour in the states of Orissa, Bihar and West Bengal, but in Punjab the Sikh community celebrates this festival with a lot of pomp in Gurdwara and the musicians perform basant raga. In many parts of Punjab, fairs are held on this day.Guru Gobind Singh was married on this day and hence it is celebrated by the Sikh community. This day is celebrated by flying kite in Firozpur.

The significance of Saraswati Puja is that, Saraswati, being the Goddess of learning, on the day of Saraswati Puja young children are made to write alphabets. This is a common practice in West Bengal and it is known as “Hathe khori”.It is a popular belief that if a young child writes in front of the Goddess, he would be blessed by the deity and will do very well in his education in future.

[02/06/19]   Lets replace "Hurry" with "हरि"।
जिस देश में
जिस वेष में
कहीं भी रहो
हरि ॐ हरि ॐ हरि ॐ कहो।
जै श्री कृष्णा !!!

[01/14/19]   Happy Makar Sankranti !!💐💐

[01/08/19]   Match Prodiction

12TH JAN 2019
@SYDENY
INDIA WILL BAT FIRST
INDIA WILL WIN

[12/27/18]   Jai shree krishna !!!💐💐💐
Get gemstone recommendations based on your birth chart ...
Nominal fee charged just message inbox .

11/12/2018

Sadhguru

Sadhguru speaks about how water has an intrinsic memory, which can be influenced by something as subtle as our thoughts and emotions. He narrates an incident from his life which demonstrated how sensitive water is to life around it.

[12/04/18]   Sports Predictions :Match Win Predictions for Cricket T20 and ODI are available on request.
Pls Inbox for Details
Thanks
Jai Shree Krishna .

[11/15/18]   It is horary astrology ... So pls ask question where it can be answered in yes or no . Your current location city or town with time is required while asking question ..

[11/14/18]   Ask one question and let me answer by prasna or horary chart...

Pls inbox me for details
All free advise .
It is horary astrology ... So pls ask question where it can be answered in yes or no . Your current location city or town with time is required while asking question ..

07/11/2018

Happy Diwali to all !
May this festival enlighten your inner light.

05/11/2018

धनतेरस का पर्व 5 नवंबर को है. हर साल यह कार्त‍िक मास के कृष्‍णपक्ष की तेरस को मनाया जाता है. धनतेरस के द‍िन खरीदारी करना शुभ माना जाता है. खासतौर से इस द‍िन तांबे के बर्तन और सोने के गहनों या स‍िक्‍कों की खरीदारी शुभ मानी जाती है. ह‍िन्‍दू धर्म में इस पर्व का महत्‍व बहुत ज्‍यादा है. इस द‍िन मां लक्ष्‍मी की खास पूजा की जाती है. ऐसी मान्‍यता है क‍ि इस द‍िन मां लक्ष्‍मी अगर जातक के पूजन से प्रसन्‍न हो गईं तो एक वर्ष के ल‍िए उसके घर में न‍िवास करती हैं.

इसल‍िए मां लक्ष्‍मी को प्रसन्‍न करने के ल‍िए हर साल तेरस के द‍िन पूजा की जाती है और मां लक्ष्‍मी को अपने घर में रुकने की प्रार्थना की जाती है. कोई भी खास मौका दोस्‍तों के ब‍िना अधूरा है. ऐसे में आप इस द‍िन अपने दोस्‍तों और र‍िश्‍तेदारों को शुभकामनाएं भेजें और उनके घर भी मां लक्ष्‍मी का आगमन हो, ऐसी मंगलकामना करें.

[10/11/18]   शुभ नवरात्रि !

[09/26/18]   Horary astrology is an ancient branch of horoscopic astrology in which an astrologer attempts to answer a question by constructing a horoscope for the exact time at which the question was received and understood by the astrologer.

प्रश्न कुण्डली तात्कालिक समय के गोचर का नक्शा मात्र है। अचानक से बैठे बैठे मन में किसी इच्छा का जन्म हुआ, इस इच्छा की इच्छा का भविष्य क्या होगा. यह पूरी होगी या नहीं? इस प्रकार की किसी भी समस्या का समाधान करने के लिये विशेष रूप से प्रश्न कुण्डली का प्रयोग किया जाता है।
For details just inbox .

[09/17/18]   विश्वकर्मा पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं!!!

13/09/2018

गणपति की स्‍थापना और पूजा का समय: 13 सितंबर की सुबह 11 बजकर 09 मिनट से 01 बजकर 35 मिनट तक.
अवधि: 2 घंटे 26 मिनट

वक्र तुंड महाकाय, सूर्य कोटि समप्रभ:। निर्विघ्नं कुरु मे देव शुभ कार्येषु सर्वदा ॥

भावार्थ :
हे हाथी के जैसे विशालकाय जिसका तेज सूर्य की सहस्त्र किरणों के समान हैं । बिना विघ्न के मेरा कार्य पूर्ण हो और सदा ही मेरे लिए शुभ हो ऐसी कामना करते है ।

नमामि देवं सकलार्थदं तं सुवर्णवर्णं भुजगोपवीतम्ं। गजाननं भास्करमेकदन्तं लम्बोदरं वारिभावसनं च॥

भावार्थ :
मैं उन भगवान् गजानन की वन्दना करता हूँ, जो समस्त कामनाओं को पूर्ण करनेवाले हैं, सुवर्ण तथा सूर्य के समान देदीप्यमान कान्ति से चमक रहे हैं, सर्पका यज्ञोपवीत धारण करते हैं, एकदन्त हैं, लम्बोदर हैं तथा कमल के आसनपर विराजमान हैं ।

एकदन्तं महाकायं लम्बोदरगजाननम्ं। विध्ननाशकरं देवं हेरम्बं प्रणमाम्यहम्॥

भावार्थ :
जो एक दाँत से सुशोभित हैं, विशाल शरीरवाले हैं, लम्बोदर हैं, गजानन हैं तथा जो विघ्नोंके विनाशकर्ता हैं, मैं उन दिव्य भगवान् हेरम्बको प्रणाम करता हूँ ।

विघ्नेश्वराय वरदाय सुरप्रियाय लम्बोदराय सकलाय जगद्धितायं। नागाननाय श्रुतियज्ञविभूषिताय गौरीसुताय गणनाथ नमो नमस्ते॥

भावार्थ :
विघ्नेश्वर, वर देनेवाले, देवताओं को प्रिय, लम्बोदर, कलाओंसे परिपूर्ण, जगत् का हित करनेवाले, गजके समान मुखवाले और वेद तथा यज्ञ से विभूषित पार्वतीपुत्र को नमस्कार है ; हे गणनाथ ! आपको नमस्कार है ।

द्वविमौ ग्रसते भूमिः सर्पो बिलशयानिवं। राजानं चाविरोद्धारं ब्राह्मणं चाप्रवासिनम्॥

भावार्थ :
जिस प्रकार बिल में रहने वाले मेढक, चूहे आदि जीवों को सर्प खा जाता है, उसी प्रकार शत्रु का विरोध न करने वाले राजा और परदेस गमन से डरने वाले ब्राह्मण को यह समय खा जाता है ।

गजाननं भूतगणादिसेवितं कपित्थजम्बूफलचारु भक्षणम्ं। उमासुतं शोकविनाशकारकं नमामि विघ्नेश्वरपादपङ्कजम्॥

भावार्थ :
जो हाथी के समान मुख वाले हैं, भूतगणादिसे सदा सेवित रहते हैं, कैथ तथा जामुन फल जिनके लिए प्रिय भोज्य हैं, पार्वती के पुत्र हैं तथा जो प्राणियों के शोक का विनाश करनेवाले हैं, उन विघ्नेश्वर के चरणकमलों में नमस्कार करता हुँ।

रक्ष रक्ष गणाध्यक्ष रक्ष त्रैलोक्यरक्षकं। भक्तानामभयं कर्ता त्राता भव भवार्णवात्॥

भावार्थ :
हे गणाध्यक्ष रक्षा कीजिए, रक्षा कीजिये । हे तीनों लोकों के रक्षक! रक्षा कीजिए; आप भक्तों को अभय प्रदान करनेवाले हैं, भवसागर से मेरी रक्षा कीजिये ।

केयूरिणं हारकिरीटजुष्टं चतुर्भुजं पाशवराभयानिं। सृणिं वहन्तं गणपं त्रिनेत्रं सचामरस्त्रीयुगलेन युक्तम्॥

भावार्थ :
मैं उन भगवान् गणपतिकी वन्दना करता हूँ जो केयूर-हार-किरीट आदि आभूषणों से सुसज्जित हैं, चतुर्भुज हैं और अपने चार हाथों में पाशा अंकुश-वर और अभय मुद्रा को धारण करते हैं, जो तीन नेत्रों वाले हैं, जिन्हें दो स्त्रियाँ चँवर डुलाती रहती हैं ।

07/09/2018

100% Pure Silver Sri Yantra locket ..
Not charged ..
With instruction how to charge given to buyers.
Only few lockets are available.
Price Rs1100 + delivery charges

02/09/2018

Shubh Janmasthmi to all

Location

Category